witnessindia
Image default
Law Lifestyle Politics Social World

स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के अंतर्गत स्वच्छता जागरूकता एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम सम्पन्न

भोपाल(ईएमएस)। स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के अंतर्गत नागरिकों के विभिन्न वर्गों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता एवं स्वच्छ सर्वेक्षण के निर्धारित मापदण्डों अनुसार साफ-सफाई व्यवस्था में सहयोग हेतु प्रेरित करने के दृष्टिगत सामाजिक, सांस्कृतिक, शैक्षणिक संस्थानों के संचालकों, विद्यार्थियों एवं प्राध्यापकों के साथ लगातार कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है वहीं सफाई एवं कचरा एकत्रीकरण कार्य से संलग्न चिन्हित रैग पीकर्स आदि को प्रशिक्षित किए जाने हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जा रहा है। इसी तारतम्य में गुरूवार को आई.एस.बी.टी. सभागार में निगम आयुक्त विजय दत्ता ने विभिन्न सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्थाओं के संचालकों की कार्यशाला में स्वच्छ सर्वेक्षण के संबंध में जानकारी दी और अपने शहर को स्वच्छता में नंबर 01 लाने हेतु स्वच्छता के क्रियाकलापों में सक्रिय सहयोग करने का आव्हान भी किया। इसके अतिरिक्त शहर के सभी महाविद्यालयों के प्राचार्यों/संचालकों की भी कार्यशाला का आयोजन किया गया। निगम के सभी जोन क्षेत्रांतर्गत स्थानों पर चिन्हित रैग पीकर्स के प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किए गए। इन कार्यक्रमों में उपस्थितजन को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई गई। कार्यशालाओं में अपर आयुक्त राजेश राठौर, मयंक वर्मा सहित निगम के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Clean Survey-2020

निगम आयुक्त विजय दत्ता व अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में कार्यशाला का हुआ आयोजन

स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के अंतर्गत स्वच्छता जागरूकता एवं सर्वेक्षण के मापदण्डों की जानकारी देने तथा शहर को साफ-स्वच्छ बनाने में आमजन के सुझाव प्राप्त करने के दृष्टिगत आई.एस.बी.टी. स्थित सभाकक्ष में दो चरणों में राजधानी के विभिन्न महाविद्यालयों के प्राचार्यों एवं संचालकों एवं सामाजिक व सांस्कृतिक संस्थाओं के पदाधिकारियों की एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई जिसमें निगम आयुक्त विजय दत्ता व अपर आयुक्त राजेश राठौर एवं अन्य अधिकारियों ने उपस्थितजन को स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के निर्धारित मापदण्डों एवं विभिन्न कार्यों हेतु प्राप्त होने वाले अंकों के संबंध में जानकारी दी तथा अपने घरों एवं संस्थानों से निकलने वाले कचरे को उत्पादन स्थल पर ही पृथक-पृथक रखने एवं पृथक-पृथक ही कचरा एकत्र करने आने वाले स्वच्छताकर्मी को देने हेतु प्रेरित किया साथ ही हरित कचरे के निष्पादन हेतु संस्थानों के परिसर में ही मिनी कम्पोस्ट यूनिट स्थापित कर जैविक खाद बनाने को कहा। कार्यशाला में स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर को साफ-स्वच्छ रखने एवं साफ-सफाई व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ बनाने के संबंध में सुझाव भी आमंत्रित किए।
चिन्हित रैग पीकर्स को दिया गया प्रशिक्षण
स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 के अंतर्गत निर्धारित मापदण्डों की जानकारी देने एवं कचरा पृथक्कीकरण एवं एकत्रीकरण हेतु नागरिकों को भी समझाइश देने हेतु निगम के सभी जोन क्षेत्रांतर्गत विभिन्न स्थानों पर चिन्हित रैग पीकर्स के प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसमें निगम के वरिष्ठ अधिकारियों, जोनल अधिकारियों, सहायक स्वास्थ्य अधिकारियों एवं स्वच्छता हेतु निगम की सहयोगी संस्थाओं के पदाधिकारियों ने प्रशिक्षण दिया साथ ही रैग पीकर्स के उत्थान हेतु शासकीय कल्याण्कारी योजनाओं के संबंध में भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई और आवेदन पत्र आदि भी वितरित किए गए।

Related posts

स्मार्टफोन की बैटरी खत्म होने से तनावग्रस्त हो जाते हैं लोग

Publisher

संयुक्त दल ने नष्ट हुयी फसलों का फसल कटाई प्रयोग पद्वति से किया सर्वे

Publisher

पाकिस्तान के अंपायर अलीम डार ने बनाया मैच में उतरते ही रिकार्ड

Publisher

Leave a Comment