witnessindia
Image default
national Politics Social World

विधायक ने किया गौपालकों को पुरस्कृत, गायों को तिलक लगाकर किया पूजन

अशोकनगर (ईएमएस)। जिले में गौपालन और गौ संवर्धन को लेकर विशेष प्रयास हो रहे हैं। विदेशी नस्लों की अपेक्षा अब देशी नस्ल पर किसान व पशुपालक भरोसा दिखा रहे हैं और दुग्ध उत्पादन कर रहे हैं। यह नाजारा देखने को मिला रविवार को आयोजित विकासखण्ड स्तरीय गोपाल पुरस्कार योजना में। इस कार्यक्रम में देशी गाय और भैंस ने विदेशी नस्ल को मात देते हुए गोपाल पुरस्कार जीते हैं। विकासखंड स्तरीय गोपाल पुरस्कार योजना के अंतर्गत जिला पशु चिकित्सालय में गोपाल पुरस्कार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें क्षेत्र भर से गौवंश पालक गायों को लेकर पहुंचे। गोपाल पुरस्कार कार्यक्रम के दौरान गौपालकों का सम्मान किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत गाय और भैंस के पूजन से किया गया।

गोपाल पुरुस्कार कार्यक्रम में गिर नस्ल की गाय ने जीता पुरस्कार

मुख्य अतिथि विधायक जजपाल सिंह जज्जी, जनपद सीईओ राजकुमार शर्मा सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी व गौपालकों ने विधि-विधान से पूजन-अर्चन किया। गौवंश (देशी गाय) योजना के अंतर्गत विकास यादव निवासी खैराई ने गोपाल बनने का गौरव हासिल किया। इसके बाद विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। कॉम्पीटिशन में देशी गाय ने सबसे ज्याद दूध दिया। इस पर विभाग द्वारा प्रथम पुरस्कार के साथ 10 हजार रुपए की राशि से सम्मानित किया गया। इसी प्रकार द्वितीय पुरस्कार अशोकनगर निवासी मोनू साहू को मिला। इसमें 7 हजार 500 रुपए नकद प्रदान किया गया। इसी प्रकार तृतीय पुरस्कार अभिवन शर्मा ने प्राप्त किया। इस पर गाय पालक को 5 हजार रुपए नकद से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में अतिथि, अधिकारी व पशु विशेषज्ञों ने किसानों को गौवंश पालन के लिए प्रोत्साहित किया गया।

विधायक ने किया गौपालकों को पुरस्कृत, गायों को तिलक लगाकर किया पूजन
विधायक ने किया गौपालकों को पुरस्कृत, गायों को तिलक लगाकर किया पूजन

-भारतीय नस्ल की भैंस पर भी मिला इनाम:
भैंस वंशीय योजना (भारतीय नस्ल की भैंस) के तहत कृष्णपाल यादव को प्रथम पुरस्कार मिला। इस पर भैंस पालक को 10 हजार रुपए नकद से सम्मानित किया गया। द्वितीय पुरस्कार ग्राम रावसर निवासी रामसिंह प्रजापति को दिया गया। इसमें 7 हजार 500 रुपए नकद प्रदान किए गए। इसी प्रकार सुखनन्दन शर्मा को तृतीय पुरस्कार मिला, इसमें पशुपालक को 5 हजार रुपए से सम्मानित किया गया।

-11 लीटर से ज्यादा दूध पर मिला प्रथम पुरूस्कार:
ग्राम खैराई से गिर नस्ल की गाय लेकर पहुंचे विकास यादव को सर्वाधिक दूध देने गाय का प्रथम पुरस्कार दिया गया। उनकी गाय का पूरे दिन का औसत दूध 11.217 लीटर पाया गया। इसी क्रम में मोनू को दूसरा और अभिनव शर्मा को तीसरा पुरस्कार दिया गया। विजेताओं को पुरस्कार के रूप में विधायक जजपाल सिंह जज्जी द्वारा मौके पर ही नगद राशि और प्रमाण पत्र प्रदान किये गये।

Related posts

भारत पहुंचने से पहले संयुक्त अरब अमीरात यूएई में हीट टेस्ट देगा राफेल विमान

Publisher

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर फैसला

Publisher

नागरिकता कानून पर अब सरकार और प्रदर्शनकारियों के बीच आर-पार की जंग छिड़ गई

Publisher

Leave a Comment