witnessindia
Image default
Economics Politics Science Tech World

वायुसेना की सामरिक क्षमता में इजाफा, शामिल हुए 8 अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर

पठानकोट (ईएमएस)। भारतीय वायुसेना (आईएएफ) की सामरिक क्षमता में जोरदार इजाफा हुआ है। मंगलवार को लड़ाकू क्षमता बढ़ाने के लिए आठ अमेरिका निर्मित ‘अपाचे एएच 64ई’ लड़ाकू हेलीकॉप्टर आईएएफ में शामिल किए गए। एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ पठानकोट एयर फोर्स स्टेशन में आयोजित इस समारोह के मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। भारतीय वायुसेना में शामिल करने से पहले एक पंडित ने अपाचे हेलिकॉप्टर की पूजा की और इसके सामने नारियल फोड़ा, इसके बाद पारंपरिक तौर पर इसका स्वागत वायुसेना के बेड़े में किया गया।

‘अपाचे एएच-64ई’ दुनिया के सबसे उन्नत बहु-भूमिका वाले लड़ाकू हेलीकॉप्टर है और अमेरिकी सेना इसका इस्तेमाल करती है।

‘अपाचे एएच-64ई’ दुनिया के सबसे उन्नत बहु-भूमिका वाले लड़ाकू हेलीकॉप्टर है और अमेरिकी सेना इसका इस्तेमाल करती है। आईएएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘आठ अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर आईएएफ में शामिल हो गए हैं जो बल की लड़ाकू क्षमता को बढ़ाएंगे।’ आईएएफ ने ‘अपाचे हेलीकॉप्टर’ के लिए अमेरिकी सरकार और बोइंग लिमिटेड के साथ सितम्बर 2015 में कई अरब डॉलर का अनुबंध किया था। इसके तहत बोइंग ने 27 जुलाई को 22 हेलीकॉप्टर में से पहले चार हेलीकॉप्टर दिए गए थे। कई अरब डॉलर का अनुबंध होने के करीब चार वर्ष बाद ‘हिंडन एयर बेस’ में भारतीय वायुसेना को अपाचे हेलीकॉप्टरों के पहले बैच की डिलीवरी की गई थी।
विपिन/ ईएमएस/ 03 सितंबर 2019

Related posts

रणजी मैच में बेहतर प्रदर्शन कर टीम इंडिया में दावेदारी पेश करेंगे पांचाल

Publisher

टेस्ट क्रिकेट की ओर दर्शकों को खींचने बदलाव बेहद जरुरी: गांगुली

Publisher

‘मर्दानी 2’ में जनता को अवेयर करने न्यूज एंकर बनकर आ रही है रानी मुखर्जी

Publisher

Leave a Comment