witnessindia
Image default
Entertainment Lifestyle Social World

रानू मंडल को लेकर लता मंगेशकर ने कहा, ‘नकल करना आर्ट नहीं है’

मुंबई (ईएमएस)।पिछले कुछ दिनों में लता मंगेशकर के गाने ‘एक प्यार का नगमा है’ गाकर रानू मंडल नाम की महिला इंटरनेट सेंनसेशन बन कर पूरे भारत में फेमस हो गई हैं। वहीं,रानू मंडल के फेमस होने के बाद म्यूजिक डायरेक्टर हिमेश रेशमिया ने उनके साथ गाने भी रिकॉर्ड किए हैं, जिसकी सभी तारीफ कर रहे हैं। लेकिन अब रानू के गाने के बारे में लता मंगेशकर का भी कॉमेंट सामने आया है। हालांकि लता ने रानू की तरीफ तो की, लेकिन इसके साथ यह भी कहा कि रानू के पास कोई कला नहीं है। रानू के बारे में लता ने कहा, ‘अगर मेरे नाम और काम से किसी का भला होता है, तो मैं अपने आप को खुशनसीब समझती हूं। लेकिन मुझे यह भी लगता है कि किसी को कॉपी करना लंबे समय तक सफलता नहीं दिला सकता। मेरे, किशोर दा, रफी साहब, मुकेश भैया या आशा के गाने गाकर कोई भी सिंगर कुछ समय के लिए अपनी तरफ ध्यान खींच सकता है, लेकिन यह फेम लंबा नहीं होगा।’

रानू के बारे में लता ने कहा, ‘अगर मेरे नाम और काम से किसी का भला होता है, तो मैं अपने आप को खुशनसीब समझती हूं।

Lata Mangeshkar

लता ने कहा कि टीवी पर गाते यंग टैलंट की उन्हें बहुत फिक्र होती है। उन्होंने कहा, ‘बहुत से बच्चे मेरे गाने खूबसूरती से गा रहे हैं, लेकिन शुरुआती सफलता के बाद उन्हें कितने लोग याद रख पाएंगे। मैं इन बच्चों में से केवल सुनिधि चौहान और श्रेया घोषाल को जानती हूं।’ नए सिंगर्स को सलाह देते हुए लता ने कहा, ‘हमेशा ऑरिजनल रहिए, चाहे किसी भी सिंगर के एवरग्रीन सॉन्ग गाएं, लेकिन अपने स्टाइल में गाएं।’ लता ने इसके लिए आशा भोसले का भी उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि अगर आशा भोसले अपनी गाने की स्टाइल विकसित नहीं करतीं तो वह कभी आगे नहीं बढ़ पातीं और केवल उनकी छाया बनकर रह जातीं।

Related posts

तानों से तंग पत्नी ने मांगा तलाक, वैष्णो देवी के दर्शन कर लौटे तो हो गया सेटेलमेंट

Publisher

देव फिटनेस क्लब का नपा विधायक प्रतिनिधि ने फीताकाटकर किया शुभांरभ

Publisher

श्रीकृष्णा मिशन हास्पिटल ने स्कूल में लगाया निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर

Publisher

Leave a Comment