witnessindia
Image default
Law Politics Social World

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में हिस्सेदारी को लेकर खींचतान

मुंबई (ईएमएस)। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के गठबंधन को बहुमत तो मिल गया, लेकिन अभी तक राज्य में सरकार नहीं बन पाई है। दोनों पार्टियों के बीच मुख्यमंत्री पद और कैबिनेट में हिस्सेदारी को लेकर खींचतान चल रही है। इस सबके बीच गुरुवार को शिवसेना नेता संजय राउत ने राष्ट्रवादी कांग्रेस के शरद पवार से मुलाकात की, जिसने सियासी गर्मी को बढ़ा दिया। गुरुवार को शिवसेना के विधायक दल की बैठक भी हुई, जिसके बाद से ही राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदलता जा रहा है और सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या शिवसेना भाजपा का साथ छोड़ किसी अन्य विकल्प पर विचार कर सकती है।

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के गठबंधन को बहुमत तो मिल गया, लेकिन अभी तक राज्य में सरकार नहीं बन पाई है।

महाराष्ट्र में शिवसेना ने पलटा गेम
महाराष्ट्र में शिवसेना ने पलटा गेम

दिवाली मिलन के बहाने से कई निशाने!गुरुवार को जब शिवसेना विधायक की बैठक हुई तो उम्मीद थी कि राज्य में गतिरोध खत्म होगा, लेकिन बैठक के बाद संजय राउत जब शरद पवार से मिलने पहुंचे तो हलचल मच गई। हालांकि, संजय राउत ने कहा कि ये सिर्फ दिवाली की बधाई वाली मुलाकात थी, हालांकि इसमें महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात पर भी चर्चा हुई।भाजपा 13 मंत्रालय देने पर राजीशिवसेना की बैठक से पहले सूत्रों के हवाले से खबर सामने आई थी कि भारतीय जनता पार्टी शिवसेना को कैबिनेट में कुल 13 मंत्रालय देने पर विचार कर सकती है। हालांकि, भाजपा शिवसेना को वित्त मंत्रालय नहीं देना चाहती है लेकिन पीडब्लूडी मंत्रालय देने पर सहमति हो सकती है।

Related posts

रूस के एक शख्स ने ऐपल पर खुद को गे बनाने का आरोप लगाते हुए मुकदमा कर दिया

Publisher

मुझे खराब स्वास्थ्य के कारण अयोध्या केस से हटाए जाने की बात पूरी तरह बकवास

Publisher

बिल गेट्स ने स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से की मुलाकात, सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर

Publisher

Leave a Comment