witnessindia
Image default
Entertainment Lifestyle Social World

‘मरजावां’ के अपने किरदार में जान डालने ‘बार’ जाती थीं रकुल प्रीत सिंह

मुंबई (ईएमएस)। बॉलीवुड की नवोदित अभिनेत्री रकुल प्रीत सिंह अपने किरदार को लेकर काफी संवेदनशील है। उन्होंने फिल्म ‘मरजावां’ में अपने किरदार में जान डालने के लिए कई दफा ‘बार’ जाकर वहां के माहौल का जायजा लिया। सिद्धार्थ मल्होत्रा, रितेश देशमुख, तारा सुतारिया की मुख्य भूमिकाओं वाली फिल्म ‘मरजावां’ रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में रकुल प्रीत सिंह भी एक सेक्स वर्कर की भूमिका में दिखाई देंगी। मिलाप झावेरी के डायरेक्शन में बनने वाली इस फिल्म में अपने रोल की तैयारी के लिए रकुल प्रीत कुछ बार में जाती थीं ताकि वह अपने कैरेक्टर को ठीक से निभा सकें। उन्होंने बताया, ‘मेरा कैरेक्टर आरजू 90 के दशक का है जो हम आजकल फिल्मों में नहीं देखते हैं। आरजू भारी-भरकम डायलॉग और शायरी भी बोलती है।

सिद्धार्थ मल्होत्रा, रितेश देशमुख, तारा सुतारिया की मुख्य भूमिकाओं वाली फिल्म ‘मरजावां’ रिलीज हो चुकी है।

'मरजावां' के अपने किरदार में जान डालने 'बार' जाती थीं रकुल प्रीत सिंह
‘मरजावां’ के अपने किरदार में जान डालने ‘बार’ जाती थीं रकुल प्रीत सिंह

वह बेहद स्ट्रॉन्ग लड़की है लेकिन इसी के साथ उसमें बहुत सारी अदा और नजाकत भी है। मेरे लिए यह जरूरी था कि मेरा कैरेक्टर फिल्म में काफी रियल लगे।’ अपना रोल ठीक से निभाने के लिए रकुल प्रीत ने एरियल योगा और बेली डांसिंग भी सीखे। उन्होंने कहा, ‘क्योंकि इस कैरक्टर में काफी डांसिंग और लचीली बॉड़ी चाहिए थी, इसके लिए मैंने एरियल योगा, एरियल हैमॉक और बेली डांसिंग सीखे। मैं अपना चेहरा ढक कर अपने कुछ पुरुष मित्रों के साथ बार में भी गई। वहां पर मैंने मौजूद लड़कियों की भाषा और बॉडी लैंग्वेज पर ध्यान दिया। हालांकि मैं उनसे बात नहीं कर सकी क्योंकि मुझे इसकी इजाजत नहीं थी। इस अनुभव के जरिए मैं अपने भीतर इस कैरक्टर को जीवित कर सकी।’

Related posts

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में हिस्सेदारी को लेकर खींचतान

Publisher

मुस्लिम, दलित, ओबीसी को लुभाने मायावती ने लिया सोशल इंजीनियरिंग का सहारा

Publisher

भाजपा नेत्री रूपा गांगुली का सनसनीखेज खुलासा, बोलीं- बुर्के में न भागती तो

Publisher

Leave a Comment