witnessindia
Image default
national Politics Social World

ममता की केन्द्र को चेतावनी, बंगाल में नहीं लागू होने दूंगी कैब

दीघा (ईएमएस)।मोदी सरकार के द्वारा नागरिकता कानून में संशोधन करने की आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि ‘‘वह किसी भी सूरत’’ में कैब को अपने राज्य में लागू नहीं करने देंगी। सत्तारूढ़ टीएमसी की प्रमुख ने कहा कि भगवा पार्टी कानून को लागू करने के लिए राज्यों को बाध्य नहीं कर सकती। ममता ने कहा,हम कभी भी राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और नागरिकता कानून को बंगाल में अनुमति नहीं देने वाली हूं, भले ही इस संसद ने पारित किया है। भाजपा राज्यों को इस लागू करने के लिए बाध्य नहीं कर सकती।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि ‘‘वह किसी भी सूरत’’ में कैब को अपने राज्य में लागू नहीं करने देंगी।

ममता की केन्द्र को चेतावनी बंगाल में नहीं लागू होने दूंगी कैब
ममता की केन्द्र को चेतावनी बंगाल में नहीं लागू होने दूंगी कैब

शुक्रवार को राज्य में सिलसिलेवार विरोध प्रदर्शनों की घोषणा कर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने गांधी की 150वीं जयंती से जुड़े समारोह से संबंधित बैठक में शामिल होने के लिए प्रस्तावित दिल्ली यात्रा भी रद्द कर दी है। उन्होंने कहा,नागरिकता कानून भारत को विभाजित करेगा। जब तक हम सत्ता में हैं,राज्य के एक भी व्यक्ति को भी देश नहीं छोड़ने देने वाले है। जापान के प्रधानमंत्री शिन्जो आबे की प्रस्तावित असम यात्रा का संदर्भ देते हुए ममता ने कहा कि यह देश की साख पर ‘‘धब्बा’’ होगा अगर पूर्वोत्तर में नागरिकता कानून के विरोध के चलते वह अपनी यात्रा रद्द कर देते हैं। उल्लेखनीय है कि आबे का गुवाहाटी दौरा रद्द हो गया है।

Related posts

दिल्ली एयरपोर्ट को मिली बम से उड़ाने की धमकी, मचा हड़कंप

Publisher

नागरिकता संशोधन बिल- भाजपा-संघ का हिंदुत्व चेहरा बने अमित शाह

Publisher

राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला हिंदुओं के पक्ष में आएगा

Publisher

Leave a Comment