witnessindia
Image default
national Social Tech World

भारत पहुंचने से पहले संयुक्त अरब अमीरात यूएई में हीट टेस्ट देगा राफेल विमान

नई दिल्ली(ईएमएस)। राफेल विमानों को भारत पहुंचने से पहले संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में गर्मी के परीक्षणों से गुजरना होगा। फ्रांस ठंडी जलवायु का देश और जबकि भारत में भीषण सर्दी और गर्मी दोनों पड़ती है। राफेल विमान भारत की सर्दी आसानी से सहन कर लेंगे इसमें कोई संदेह नहीं है, लेकिन गर्मी सहन कर पाएंगे या नहीं। इसका परीक्षण यूएई में किया जाएगा। यूएई में भारत से दो-तीन डिग्री ज्यादा गर्मी पड़ती है। इसलिए राफेल विमानों के लिए ये परीक्षण निर्णायक साबित होंगे। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, इस मुद्दे पर दोनों देशों के बीच बातचीत हो चुकी है। यूएई में पहले से अमेरिका का एयरबेस है।

राफेल विमान भारत की सर्दी आसानी से सहन कर लेंगे इसमें कोई संदेह नहीं है, लेकिन गर्मी सहन कर पाएंगे या नहीं।

यूएई में हीट टेस्ट देगा राफेल
यूएई में हीट टेस्ट देगा राफेल

अबूधाबी स्थित इस अल धाफ्रा एयरबेस में राफेल विमानों के हीट परीक्षण शुरू होंगे। संभावना है कि अप्रैल या मई में यह परीक्षण किए जाएंगे, जब वहां अधिकतम तापमान 50 डिग्री तक पहुंच जाता है। इन परीक्षणों का मकसद यह देखना है कि कहीं ज्यादा गर्मी में इन विमानों की कार्यप्रणाली प्रभावित तो नहीं होती है। यदि इनमें किसी प्रकार की दिक्कत दिखेगी तो फ्रांस को विमानों में तकनीकी बदलाव करने पड़ सकते हैं। फ्रांस की तरफ से दिए गए प्रस्ताव में कहा गया है कि विमानों के हीट परीक्षण के दौरान भारतीय वायुसेना के अधिकारी और विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे।

Related posts

दशकों पुराने अयोध्या मामले की सुनवाई का आखिरी दौर, सुरक्षा कड़ी

Publisher

70 हजार कुर्सियां, कई राज्यों कें मुख्यमंत्रियों को निमंत्रण, ठाकरे का शपथ ग्रहण

Publisher

छाती में किसी भी तरह का दर्द हो और उसे नजरअंदाज करना कतई सही नहीं है

Publisher

Leave a Comment