witnessindia
Image default
Law Politics Social World

भारत के प्रमुख सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने जीरो बैलेंस खातों पर बढ़ाईं सुविधाएं

नई दिल्ली (ईएमएस)। भारत के प्रमुख सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने जीरो बैलेंस खातों को लेकर अपने नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। एसबीआई ने अब इस तरह के खातों पर दी जाने वाली सुविधाओं को और बढ़ा दिया है। भारतीय रिजर्व बैंक की गाइडलाइंस के मुताबिक नई सुविधाएं लेने के लिए ग्राहकों को केवाईसी के नियम पूरे करने होंगे। गौरतलब है ‎कि जीरो बैलेंस खातों को बेसिक सेविंग्स बैंक डिपोजिट अकाउंट कहते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पिछले कार्यकाल में गरीब वर्ग के लोगों को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ने के लिए जीरो बैलेंस खातों की शुरूआत की थी।

भारतीय रिजर्व बैंक की गाइडलाइंस के मुताबिक नई सुविधाएं लेने के लिए ग्राहकों को केवाईसी के नियम पूरे करने होंगे।

State Bank of India

इस तरह के खातों को किसी भी सरकारी बैंक में खोला जा सकता है। जीरो बैलेंस खातों पर अभी तक डेबिट कार्ड की सुविधा मिलती थी, लेकिन अब एसबीआई ने इन सुविधाओं में इजाफा किया है। अब इन खाताधारकों को डेबिट कार्ड तो मिलेगा ही साथ ही इंटरनेंट बैंकिंग भी सुविधा मिलेगी। डेबिट कार्ड से महीने में चार बार बिना किसी शुल्क के नकदी निकालने की भी सुविधा मिलेगी। इन सहूलियतों के लिए जीरो बैलेंस अकाउंड होल्डर का अपने खाते में न्यूनतम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं है। इसमें अन्य सेविंग अकाउंट की तरह ब्याज मिलता है।

Related posts

एनसीए में राष्ट्रमंडल देशों के युवा खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दे रहे द्रविड़

Publisher

उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े ने ली शपथ

Publisher

2022 विश्वकप में जीत दिला सकते हैं मेसी : अर्जेंटीना के फुटबॉलर हर्नान क्रेस्पो

Publisher

Leave a Comment