witnessindia
Image default
Law Politics Social World

तीर्थ दर्शन योजना में पाकिस्तान के करतारपुर गुरद्वारा किया शामिल

भोपाल (ईएमएस)। मध्य प्रदेश के तीर्थयात्रियों की ट्रेन जल्दी ही पाकिस्तान के करतारपुर के समीपस्थ रेलवे स्टेशन गुरुदासपुर तक जाएगी। वहां से करतारपुर की दूरी 40 किमी है। मप्र की बहुचर्चित मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में अब पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा दरबारपुर साहिब करतारपुर को भी जोड़ने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। यात्रा के लिए पंजीयन की औपचारिकताएं पूरी करने के बाद यात्रियों को करतारपुर कॉरिडोर ले जाया जाएगा। जानकारी के अनुसार इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) के सूत्रों का कहना है कि उन्होंने इस संबंध में प्रारंभिक तैयारियां कर ली हैं।

पाक स्थित यह गुरुदारा सिखों के लिए है पवित्र स्थल

शासन की ओर से औपचारिक आदेश मिलने के बाद वह यात्रा की तारीख एवं अन्य तैयारियों को अंतिम रूप दे देंगे। आईआरसीटी के क्षेत्रीय प्रबंधक केके सिंह ने बताया कि तीर्थ यात्रियों की ट्रेन करतारपुर भेजने के संबंध में अभी उन्हें शासन की ओर से आदेश नहीं मिला है। इस संबंध में निर्देश मिलते ही तीर्थ यात्रियों के लिए पहचान पत्र, पासपोर्ट, ऑनलाइन पंजीयन और पाकिस्तान द्वारा ली जाने वाली प्रति व्यक्ति 20 डॉलर की फीस के अलावा अन्य औपचारिकताओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि गुरुनानक देवजी की 550वीं वर्षगांठ पर मप्र सरकार ने तीर्थ दर्शन योजना में नांदेड़ हुजूर साहिब, आनंदपुर साहिब, दमदमा साहिब भटिंडा, पौंडा साहिब और मणि कर्ण हिमाचल को भी जोड़ लिया है। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2012 में राज्य सरकार ने 60 वर्ष अथवा अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए तीर्थ दर्शन योजना शुरू की थी।

तीर्थ दर्शन योजना में करतारपुर गुरद्वारा किया शामिल
तीर्थ दर्शन योजना में करतारपुर गुरद्वारा किया शामिल

यह योजना काफी लोकप्रिय हुई और इसमें सभी धर्मों के तीर्थस्थानों को शामिल किया गया है। यहां बता दे कि पाकिस्तान स्थित करतारपुर गुरुद्वारा को पिछले दिनों बडे ही धूमधाम से विशाल कार्यक्रम आयोजित भारत के सिख यात्रियों के लिए खोल दिया गया है। यह गुरुद्वारा सिख समाज के लिए किसी भी पवित्र तीर्थ स्थलों से कम मायने नहीं रखता है। इसी लिए प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में इस गुरुद्वारे को भी शामिल कर लिया है।

Related posts

मुख्य न्यायाधीश शरद बोबडे बोले- न्याय खर्चीला, सभी की पहुंच नहीं

Publisher

कैंसर के इलाज में मदद कर सकती है सेक्स वर्धक वायग्रा की गोली

Publisher

कर्नाटक के 17 अयोग्‍य घोषित विधायकों को कोर्ट ने दी उप-चुनाव लड़ने की इजाजत

Publisher

Leave a Comment