witnessindia
Image default
Entertainment Lifestyle Social World

टी.आई रैपर क्लिफर्ड हर साल करवाते हैं बेटी की वर्जिनिटी चेक

लॉस एजेलिस (ईएमएस)। हॉलिवुड के मशहूर रैपर क्लिफर्ड जोसेफ हैरिस जूनियर जिन्हें टी.आई के नाम से जाना जाता है। उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। सिंगर ने एक चैट शो के दौरान बताया था कि उनकी बेटी 18 साल की हो गई है और वह हर साल उसका हाइमन चेक करवाने के लिए गाइनकालजिस्ट के पास लेकर जाते हैं, ताकि वह जान सकें कि बेटी वर्जिन है या नहीं। बताया गया ‎कि टी.आई पैरंटिंग को लेकर बात कर रहे थे और इसी दौरान उन्होंने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी के साथ सेक्स के टॉपिक को लेकर बात की थी, ताकि उसे इस विषय के बारे में जानकारी हो। उन्होंने आगे कहा कि वह हर साल बेटी डेजाह हैरिस को गाइनकालजिस्ट के पास लेकर जाते हैं और उसका हाइमन चेक करवाते हैं। यहां तक कि जब वह 16 साल की हुई थी तो बर्थडे के दिन भी वह उसे डॉक्टर के पास लेकर गए थे।

हॉलिवुड के मशहूर रैपर क्लिफर्ड जोसेफ हैरिस जूनियर जिन्हें टी.आई के नाम से जाना जाता है।

टी.आई रैपर क्लिफर्ड हर साल करवाते हैं बेटी की वर्जिनिटी चेक
टी.आई रैपर क्लिफर्ड हर साल करवाते हैं बेटी की वर्जिनिटी चेक

इतना ही नहीं सिंगर ने यह भी रिवील किया कि उनकी बेटी ने एक दस्तावेज भी साइन किया है जिसमें लिखा है कि डेजाह की मेडिकल रिपोर्ट्स और स्थिति को उनके साथ शेयर करना जरूरी होगा। इसक अलावा टी.आई ने आगे कहा कि उन्हें बताया गया कि हाइमन पेनिट्रेशन के अलावा अन्य फिजिकल ऐक्टिविटीज से भी ब्रेक हो सकता है, लेकिन उनकी बेटी ऐसी कोई ऐक्टिविटी नहीं करती। हालां‎कि टी.आई की कही बातों को लेकर लोगों ने अपनी नाराजगी सोशल मीडिया पर जाहिर की। उन्होंने कहा कि यह किसी भी तरह से गर्व की बात नहीं है। यूजर्स ने सिंगर की आलोचना करते हुए कहा कि हर साल जहां बतौर पिता उन्हें अपनी बेटी के जन्मदिन को सेलिब्रेट करना चाहिए वहीं टी.आई उसे हाइमन चेक के लिए ले जाते हैं। कुछ लोगों ने यह भी कहा कि सिंगर जो कर रहे हैं उससे यह संदेश जाता है कि लड़कियों का शरीर उनका नहीं है और उनका उस पर खुद अधिकार नहीं हैं। वहीं एक यूजर ने यह भी लिखा कि कोई भी महिला किसी की पर्सनल प्रॉपर्टी नहीं होती है फिर चाहे वह पत्नी हो या फिर बेटी।

Related posts

पीसीबी खिलाड़ियों की सही उम्र बताये : पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ

Publisher

दुनिया में अब क्रांति होने वाली है अब स्मार्टफोन इंसान की सेहत की निगरानी भी करेगा

Publisher

नागरिकता बिल के विरोध में असम उबला, 12 घंटे के बंद के दौरान कई स्थानों पर संघर्ष

Publisher

Leave a Comment