witnessindia
Image default
national Politics Social World

झारखंड: छल और स्वार्थ की राजनीति करती है कांग्रेस-जेएमएम

खूंटी (ईएमएस)। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) सिर्फ छल और स्वार्थ की राजनीति करती है। पीएम मोदी ने झारखंड के खूंटी में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए विपक्षी कांग्रेस और जेएमएम पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा सेवाभाव की राजनीति करती है। जेएमएम और कांग्रेस की पिछली सरकारों पर आदिवासियों के लिए काम ना करने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि इन सरकारों ने आदिवासियों को झोपड़ी में रहने को मजबूर कर दिया था। मोदी ने कहा कि कांग्रेस-जेएमएम सत्ता में वापसी के लिए इतना छटपटा रहे कि वे आपके बीच झूठ फैला रहे हैं, डर और भ्रम फैला रहे हैं। ये नहीं चाहते कि यहां उद्योग लगे, पर्यटन समृद्ध हो। इनको पता है कि ऐसा हुआ तो यहां के गरीबों के पास पैसा आएगा, जिससे कांग्रेस-जेएमएम को कोई पूछेगा नहीं। झारखंड में 30 नवंबर को पहले चरण के लिए 13 विधानसभा सीटों पर वोट डाले गए थे। पहले चरण का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘पहले चरण के मतदान के बाद तीन बातें स्पष्ट हो गई हैं। पहली- लोकतंत्र को मजबूत करने और राष्ट्र निर्माण में झारखंड के लोगों की आस्था अभूतपूर्व है। दूसरी- भाजपा सरकार ने जिस प्रकार नक्सलवाद की कमर तोड़ी है, उससे यहां डर का माहौल कम हुआ है और विकास का माहौल बना है। तीसरी- झारखंड के लोगों में भाजपा सरकार के प्रति एक विश्वास की भावना है।’

खूंटी में चुनावी रैली के दौरान विपक्षी कांग्रेस और जेएमएम पर पीएम ने जमकर साधा निशाना

पीएम मोदी ने दिल्ली के साथ-साथ झारखंड में भी भाजपा सरकार के फायदे गिनाते हुए फिर से भाजपा को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा, ‘आज झारखंड के लोग देख रहे हैं कि दिल्ली और रांची में डबल इंजन लगाने से विकास की गति तेज भी होती है और स्थायी होती है। झारखंड के विकास के लिए भाजपा की वापसी जरूरी है।’ चुनावी रैली में पीएम ने कहा, ‘भगवान राम अयोध्या से जब निकले थे, तब तो राजकुमार राम थे और जब 14 साल के वनवास के बाद वापस आए तो मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम बन गए। ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि 14 साल भगवान राम ने आदिवासियों के बीच बिताए थे। आदिवासी भाई-बहनों के ये संस्कार हैं।’ अयोध्या विवाद का जिक्र करते हुए पीएम मोदी कहा कि जिस मसले को कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सरकारों ने लगातार लटकाए रखा, वो भी शांतिपूर्ण ढंग से हल हो गया। कांग्रेस और जेएमएम की पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, ‘आज उन जनजातीय क्षेत्रों में भी पानी की लाइन पहुंच रही है, जिनको कांग्रेस-जेएमएम की सरकारों ने उनके हाल पर छोड़ दिया था। उन पिछड़ों और आदिवासी परिवारों को भी अपना घर मिल पा रहा है, जिनको कांग्रेस-जेएमएम की सरकारों ने झोपड़ियों में रहने के लिए मजबूर कर रखा था। झारखंड यह भली-भांति जानता है कि कांग्रेस और जेएमएम की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है। जबकि भाजपा कर्म और सेवा भाव से काम करती है।’

झारखंड छल और स्वार्थ की राजनीति करती है कांग्रेस-जेएमएम
झारखंड छल और स्वार्थ की राजनीति करती है कांग्रेस-जेएमएम

प्रधानमंत्री मोदी का नया नारा, झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा-
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड विधानसभा चुनाव के सबसे महत्वपूर्ण दूसरे दौर के मतदान से आज खूंटी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला किया। मोदी ने भगवान बिरसा मुंडा की धरती को नमन करते हुए कहा कि झारखंड के लोगों में भाजपा सरकार के प्रति और कमल के फूल के प्रति एक विश्वास की भावना है। ये भाव है कि झारखंड का विकास अगर कोई दल कर सकता है तो वो सिर्फ और सिर्फ भाजपा की कर सकती है। मोदी ने दावा किया कि पहले चरण के मतदान से 3 बातें स्पष्ट हुई हैं वह यह है कि लोकतंत्र को मजबूत करने और राष्ट्र निर्माण में झारखंड के लोगों की आस्था अभूतपूर्व है। दूसरी बात यह है कि भाजपा सरकार ने जिस प्रकार नक्सलवाद की कमर तोड़ी है, उससे यहां डर का माहौल कम हुआ है और विकास का माहौल बना है। पहले चरण के मतदान के बाद तीसरी बात ये भी स्पष्ट हुआ है कि, झारखंड के लोगों में भाजपा सरकार के प्रति एक विश्वास की भावना है। मोदी ने कहा कि आज झारखंड के लोग देख रहे हैं कि दिल्ली और रांची में डबल इंजन लगाने से विकास की गति तेज भी होती है और स्थायी होती है। यहां की जनता सहज रूप से कह रही है झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा। झारखंड के विकास के लिए भाजपा की वापसी जरूरी है। आज झारखंड के हर व्यक्ति को केंद्र और राज्य सरकार की किसी ना किसी योजना का सीधा लाभ पहुंच रहा है। बिना किसी जाति के भेदभाव के, बिना किसी पंथ के भेदभाव, हर झारखंडवासी के विकास के लिए समान भावना से हम काम कर रहे हैं। विपक्ष पर हमला करते हुए मोदी ने कहा कि झारखंड ये भली भांति जानता है कि कांग्रेस और जेएमएम की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है। जबकि भाजपा कर्म और सेवा भाव से काम करती है।

आज उन क्षेत्रों में भी बिजली का तार पहुंचा है, जिन गांव में पहुंचना तक मुश्किल था। आज वो क्षेत्र भी सड़क से जुड़ रहे हैं, जहां कभी विरोधी दल के नेता झांकते भी नहीं थे। आज उन जनजातीय क्षेत्रों में भी पानी की लाइन पहुंच रही है, जिनको कांग्रेस-जेएमएम की सरकारों ने अपने हाल पर छोड़ दिया था। उन पिछड़ों और आदिवासी परिवारों को भी अपना घर मिल पा रहा है, जिनको कांग्रेस-जेएमएम की सरकारों ने झोंपड़ियों में रहने के लिए मजबूर कर रखा था। मोदी ने कहा कि आपके पड़ोस में जहां भाजपा की सरकारें नहीं है, वहां की स्थिति आप देख लीजिए। वहां किसानों, आदिवासियों और पिछड़ों के साथ झूठे वायदे करके कांग्रेस और उसके साथी दलों ने सरकार तो बना ली, लेकिन अब वादा पूरा करने से दूर भाग रहे हैं। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 अब हट चुका है। अब केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर को विकास और विश्वास के पथ पर ले जाने की जिम्मेदारी आदिवासी अंचल में ही जन्मे, पले-बढ़े, उपराज्यपाल जी के कंधे पर है। राम जन्मभूमि को लेकर जिस विवाद को कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सरकारों ने लगातार लटकाए रखा, वो भी शांतिपूर्ण ढंग से हल हो गया। भगवान राम अयोध्या से जब निकले थे तब तो राजकुमार राम थे और जब 14 साल के वनवास के बाद वापस आए तो मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम बन गए। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि 14 साल भगवान राम ने आदिवासियों के बीच बिताए थे। ये संस्कार हैं आदिवासी भाई-बहनों के।

Related posts

विश्व कुश्ती चैंपियनशिप: दीपक पूनिया ने ओलिपिंक कोटा हासिल किया

Publisher

लालू को बेहतर उपचार की है आवश्यकता

Publisher

मऊ में सिलेंडर फटने से दो मंजिला इमारत जमींदोज, दस लोगों की मौत, 30 घायल

Publisher

Leave a Comment