witnessindia
Image default
health Science Social World

खुशबूदार इत्र बन सकता है माइग्रेन, अस्थमा या कैंसर की वजह

न्यूयॉर्क (ईएमएस)। हाल में आए एक अध्ययन में पता चला कि इत्र की मनमोहक खुशबू कई गंभीर बीमारियों का कारण भी हो सकती है। दरअसल, इस संबंध में किए गए अनेक अंतरराष्ट्रीय शोधों में यह बात सामने आई है कि इत्र माइग्रेन के भयंकर सिरदर्द से लेकर कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का कारण भी हो सकता है। दुनिया के विभिन्न हिस्सों में इस संबंध में शोध हुए हैं, जिनमें विशेषज्ञों ने दावा किया है कि रोजमर्रा के कामकाज में इस्तेमाल होने वाली चीजों में मौजूद रसायन या सुगंध से कई गंभीर बीमारियां होने का खतरा हो सकता है। सफाई वाले स्प्रे का रसायन फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है, तो इत्र सहित अन्य खुशबू वाले उत्पाद, पेंट और डिटरजेंट से माइग्रेन और कैंसर तक हो सकता है।

अंतरराष्ट्रीय शोधों में यह बात सामने आई है कि इत्र माइग्रेन के भयंकर सिरदर्द से लेकर कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का कारण भी हो सकता है।

खुशबूदार इत्र बन सकता है माइग्रेन, अस्थमा या कैंसर की वजह
खुशबूदार इत्र बन सकता है माइग्रेन, अस्थमा या कैंसर की वजह

अध्ययन के दौरान देखा गया कि खुशबू के प्रति संवेदनशील लोगों को आंखों में जलन, पानी आना, बंद नाक, सिरदर्द और अस्थमा की शिकायत देखी गई। वहीं, कुछ अन्य गंभीर मामलों में मितली आने और त्वचा की समस्याएं देखी गई। हार्वर्ड मेडिकल स्कूल में हुए एक अन्य अध्ययन में विशेषज्ञों ने इत्र, खुशबू वाले उत्पाद या सफाई वाले रसायनों को माइग्रेन का कारक बताया। 500 लोगों के आंकड़ों के अध्ययन के बाद विशेषज्ञों ने यह निष्कर्ष निकाला। इस अध्ययन में पाया गया कि लगभग 60 फीसदी मामलों में माइग्रेन का अटैक हुआ, जबकि 68 फीसदी मामलों में लोगों ने नाक और साइनस में परेशानी अनुभव की।

Related posts

अब खाद्य वस्तुओं की कीमतों पर सरकार की नजर

Publisher

पूर्वोत्तर में आग लगाने की कोशिश कर रही हैं कांग्रेस और उसके साथी : पीएम मोदी

Publisher

मनमोहन ने मोदी को दिया पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का मंत्र

Publisher

Leave a Comment