witnessindia
Image default
International national Politics Social

कुछ लोगों की मंशा दंगा भड़काने की थी: दलित नेता प्रकाश आंबेडकर

पुणे (ईएमएस)। दलित नेता प्रकाश आंबेडकर ने दावा किया कि कुछ लोगों की मंशा कोरेगांव भीमा के संघर्ष की 202वीं बरसी के मौके पर दंगा भड़काकर राजनीतिक फायदा लेने की थी लेकिन नयी सरकार ने उनके इरादों को नाकाम कर दिया। कड़ी सुरक्षा के बीच ऐतिहासिक संघर्ष की वर्षगांठ के मौके पर महाराष्ट्र के पुणे जिले के पेरने गांव में बुधवार को जयस्तंभ पर लाखों लोगों ने श्रद्धांजलि दी। दलित इस स्मारक को अपने गौरव का प्रतीक मानते हैं। महाराष्ट्र में सरकार बदल गई है और कुछ लोग दंगा भड़काकर मुद्दे का राजनीतिकरण करना चाहते थे, लेकिन इस बार हमने राज्य सरकार के साथ मिलकर उनके इरादों को नाकाम कर दिया। इस पर और ज्यादा बताने से इनकार करते हुए आंबेडकर ने कहा कि वह बाद में इस विषय पर बोलेंगे।

दलित इस स्मारक को अपने गौरव का प्रतीक मानते हैं।

कुछ लोगों की मंशा दंगा भड़काने की थी
कुछ लोगों की मंशा दंगा भड़काने की थी

Related posts

अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील द्वारा डोडी में गौ-शाला का लोकार्पण

Publisher

पीएम मोदी को 69 वें जन्मदिन पर उपराष्ट्रपति नायडू सहित दिग्गज नेताओं ने दी शुभकामनाएं

Publisher

खट्टर सरकार ने विस चुनाव से पहले पाल गड़रिया समाज को किया दलित घोषित

Publisher

Leave a Comment