witnessindia
Image default
Law Social World

उत्तर प्रदेश के यमुना एक्सप्रेस-वे पर इस साल 154 लोगों ने गंवाई जान

नई दिल्ली (ईएमएस)। उत्तर प्रदेश के यमुना एक्सप्रेस-वे पर इस साल हुए हादसों में अब तक 154 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। वर्ष 2012 में परिचालन में आने के बाद से किसी एक साल में मौतों की यह सबसे अधिक संख्या है। आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली को आगरा से जोड़ने वाली इस १६५ किलोमीटर लंबी सड़क पर 31 जुलाई तक 357 हादसे हुए जिनमें 822 लोग घायल हुए और 145 ने अपनी जान गंवाई। यह जानकारी आगरा के वकील कृष्ण चंद जैन की ओर से सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी में दी गई है। अगस्त और सितंबर में ग्रेटर नोएडा में एक्सप्रेस-वे पर तीन सड़क हादसों की जानकारी दी थी जिसमें तीन छात्रों सहित नौ लोगों की मौत हुई थी। इस प्रकार इस साल अब तक 154 लोगों की मौत हुई है।

अगस्त और सितंबर में ग्रेटर नोएडा में एक्सप्रेस-वे पर तीन सड़क हादसों की जानकारी दी थी जिसमें तीन छात्रों सहित नौ लोगों की मौत हुई थी।

This year 154 people lost their lives on Yamuna Expressway of Uttar Pradesh

यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (वाईईआईडीए) की ओर से दी गई सूचना के मुताबिक इससे पहले सबसे अधिक मौतें वर्ष 2017 में दर्ज की गई थीं।तब कुल 763 हादसों में 146 लोगों ने जान गंवाई थी। एक्सप्रेस-वे पर हादसों को रोकने के लिए कई कदम उठाए गए हैं जिसमें छोटे वाहनों की गति सीमा 100 किलोमीटर प्रति घंटे और भारी वाहनों की गति सीमा 60 किलोमीटर प्रति घंटे तय करना, कई स्थानों पर अवरोधक, चेतावनी देने वाले बोर्ड लगाना आदि शामिल हैं।

Related posts

शक्तिशाली न्यूक्लियर मिसाइल के – 4 का परीक्षण करेगा भारत

Publisher

बिग बॉस में सिद्धार्थ ने दी असीम को गाली, भड़की गौहर खान

Publisher

लहसुन के नियमित इस्तेमाल से नियंत्रण में रहता है उच्च रक्तचाप

Publisher

Leave a Comment