witnessindia
Image default
Food health Lifestyle

इम्पल्सिव व्यवहार और फायदे-नुकसान सोचे बिना खाना मोटापे से जुड़ा

लंदन (ईएमएस)। जरा सोचिए,आपके डायट प्लान में सबकुछ ठीक चल रहा है तब तक आपको अचानक फ्रेंच फ्राइज या पॉपकॉर्न दिख जाएं। यह देखकर आपके डायट प्लान पर पानी फिर जाता है और आप इस खाने को देखकर हार मान जाते हैं। खाने को लेकर यह इम्पल्सिव व्यवहार और फायदे-नुकसान सोचे बिना खाना मोटापे से जुड़ा है। शोधकर्ताओं का मानना है कि उनकी इस खोज से डॉक्टर्स ओवर ईटिंग का बेहतर इलाज कर सकते है। लीड ऑथर एमिली नोबल का कहना है, एक्सपेरिमेंटल मॉडल्स में आप उस सर्किट को एक्टिवेट कर सकते हैं और अपने व्यवहार में बदलाव ला सकते हैं। स्टडी के लिए टीम ने चूहे के मॉडल को लिया था। उन्होंने एक ब्रेन सेल पर फोकस किया जो मेलनिन कंसंट्रेटिंग हॉर्मोन पैदा करती है। उन्होंन पता लगाया कि यह एमसीटी इंपल्सिव बिहेवियर को प्रभावित करता है।

खाने को लेकर यह इम्पल्सिव व्यवहार और फायदे-नुकसान सोचे बिना खाना मोटापे से जुड़ा है।

फायदे-नुकसान सोचे बिना खाना मोटापे से जुड़ा
फायदे-नुकसान सोचे बिना खाना मोटापे से जुड़ा

Related posts

किशमिश को रात भर भिगोकर खाने से फायदा – कई बीमारियों में मिलेगी राहत

Publisher

मध्यप्रदेश सर्वधर्म सदभावना मंच ने दी प्रकाश पर्व की बधाई

Publisher

सबसे ज्यादा कमाई करने वाली रितिक रोशन और टाइगर श्रॉफ की फिल्म बनी वॉर

Publisher

Leave a Comment