Warning: Use of undefined constant php - assumed 'php' (this will throw an Error in a future version of PHP) in /home/witnessindia/public_html/wp-load.php on line 1

Notice: File doesn't exist! in /home/witnessindia/public_html/wp-includes/functions.php on line 4533
आरटीआई कानून के दायरे में आया मुख्य न्यायाधीश का कार्यालय
witnessindia
Image default
Law Politics Social World

आरटीआई कानून के दायरे में आया मुख्य न्यायाधीश का कार्यालय

नई दिल्ली (ईएमएस)। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का ऑफिस भी अब सूचना के अधिकार कानून (आरटीआई) के दायरे में आ गया है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की संविधान पीठ ने इस पर फैसला सुनाया है। इस पीठ में मुख्य न्यायाधीश के अलावा जस्टिस एनवी रमन्ना, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस संजीव खन्ना शामिल हैं। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई पूरी कर 4 अप्रैल को ही अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। शीर्ष कोर्ट ने कहा था कि कोई भी अपारदर्शी प्रणाली नहीं चाहता है, लेकिन पारदर्शिता के नाम पर न्यायपालिका को नुकसान नहीं पहुंचाया जा सकता।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की संविधान पीठ ने इस पर फैसला सुनाया है।

आरटीआई कानून के दायरे में आया मुख्य न्यायाधीश का कार्यालय
आरटीआई कानून के दायरे में आया मुख्य न्यायाधीश का कार्यालय

दरअसल, सीआईसी ने अपने आदेश में कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का दफ्तर आरटीआई के दायरे में होगा। इस फैसले को होई कोर्ट ने सही ठहराया था। हाई कोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री ने 2010 में चुनौती दी थी। तब सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट के आदेश पर स्टे कर दिया था और मामले को संविधान बेंच को रेफर कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट के केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी का प्रतिनिधित्व कर रहे अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा था कि सीजेआई कार्यालय के अधीन आने वाले कालेजियम से जुड़ी जानकारी को साझा करना न्यायिक स्वतंत्रता को नष्ट कर देगा। अदालत से जुड़ी आरटीआई का जवाब देने का कार्य केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी का होता है।

Related posts

आरबीआई अगले महीने समीक्षा बैठक में फिर घटा सकता है रेपो रेट: गवर्नर

Publisher

होंडा एक्टिवा बीएस-6 का नया रिकॉर्ड, 2 महीने में बेच दिए 25000 स्कूटर

Publisher

शीशे से बंद घर और दफ्तर में रहने वाले लोगों को होती हैं कई बीमारी

Publisher

Leave a Comment