witnessindia
Image default
Lifestyle Social Tech World

अध्ययन में सामने आया है कि लोगों को जोड़ता ही नहीं, तोड़ता भी है फोन

लंदन (ईएमएस)। क्या आप जानते हैं कि फोन सिर्फ एक दूसरे से जोड़ नहीं रहा है, तोड़ भी रहा है। दंपतियों या प्रेमी प्रेमिका के बीच के बीच कई बार झगड़े की वजह फोन बनता है। फोन की भी क्या खब्त है। लोग सामने बैठे व्यक्ति से तो बात नहीं करते, लेकिन लाखों-हज़ारों मील दूर बैठे व्यक्ति से बातचीत शुरू कर देते हैं, इस बात से पूरी तरह बेखबर कि इसका रिश्तों पर कितना नकारात्मक असर पड़ता है। टेन की यूनिवर्सिटी ऑफ केंट के अध्ययन में सामने आया है कि किसी के साथ होते हुए भी उसके साथ नहीं होना रिश्ते को नकारात्मकता से भर देता है।

आप भी ऐसा करते हैं, तो सावधान हो जाइए।

अध्ययन में सामने आया है कि लोगों को जोड़ता ही नहीं, तोड़ता भी है फोन
अध्ययन में सामने आया है कि लोगों को जोड़ता ही नहीं, तोड़ता भी है फोन

अक्सर लोग सामने बैठे व्यक्ति से बात नहीं करके मोबाइल फोन पर नजरें गड़ाए रहते हैं। आप भी ऐसा करते हैं, तो सावधान हो जाइए। अध्ययन में सामने आया है कि दूसरों को नजरअंदाज करके अपने फोन में मग्न रहने से रिश्तों पर नकारात्मक असर पड़ता है। मनोचिकित्सकों ने अध्ययन ने इसे फबिंग का नाम दिया है। उन्होंने पाया कि फबिंग बढ़ने से आपसी संबंधों पर नकारात्मक असर पड़ता है।

Related posts

ज्यादा चाय-काफी पीने वाले हो जाएं सावधान, बन सकते हैं कैंसर और दिल के मरीज

Laxmi Kalra

नियम विरुद्ध चल रहे मैरिज गार्डनों पर प्रशासन की कार्रवाई

Publisher

आमिर ने फ़िल्म “लाल सिंह चड्डा” के लिए एक इंटेंस रनिंग सीक्वेंस को दिया अंजाम

Publisher

Leave a Comment